⧭⧭ डरो मत ⧭⧭

जन वेदना सम्मलेन, नई दिल्ली में आज (11 जनवरी,2017) राहुल गांधी ने अपने संबोधन के दौरान 14 बार “डरो मत” कहा।

मुख़्तसर ये कि :-

(१) मनमोहन सिंह की नाक के नीचे 10 वर्षों तक घोटालों पर घोटाले होते रहे, लेकिन “डरो मत”

(२) कांग्रेस समर्थित राज्य सभा सदस्य विजय माल्या ने कई हज़ार करोड़ रूपये का bank loan अदा नहीं किया,लेकिन “डरो मत”

(३) कालेधन के खिलाफ UPA सरकार ने कुछ भी नहीं किया,लेकिन “डरो मत”

(४) अजमल कसाब और उसके साथियों ने 26/11 को मुम्बई में खूनी खेल खेला,लेकिन “डरो मत”

(५) केरल,पश्चिम बंगाल,असम आदि राज्यों में पाक समर्थित इस्लामी दहशत ने अपने पैर जमाये,लेकिन “डरो मत”

(६) UPA सरकार के कार्यकाल में PSU banks का NPA सबसे ज़्यादा बढ़ा,लेकिन “डरो मत”

(७) भारत के प्राकृतिक संसाधनों पर पहला अधिकार मुसलमानों का है, लेकिन “डरो मत”

(८) Vote Bank की राजनीति का आविष्कार Congress ने किया है,लेकिन “डरो मत”

कांग्रेस ने पचास से ज़्यादा वर्षों तक देश पर शासन किया और ग़रीबी,भुखमरी तथा बेराज़गारी की बीमारी जस की तस है,लेकिन “डरो मत”.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *